इसका शीर्षक पड़ते ही आपको लगता होगा कि इसमे क्या राजनीति है, ये दोनों तो मजदूरों के त्यौहार है, यह दोनों त्यौहार मेहनतकश वर्ग के ही है, फिर इसमे दो वर्गीय राजनीति कहॉ से आ गई । यह बात समझ नहीं आई, यही बात तो, आज तक समझ नहीं आई, न हमने कभी वर्गीय […]

Read More

1 मई मजदूर दिवस को संकल्प लो, अपने हक के लिए लड़ेगे । अपने खून को गर्म करो, गुलामी से बाहर निकलो आज मेहनतकश वर्ग के अधिकारो को खत्म करने की खुलेआम मुहिम चल रही है, सरकारे खुले रूप से मजदूर, कर्मचारियों को गुलाम बनाने के कानून बना रहे हैं, मेहनत करने वालो का भविष्य […]

Read More