1 मई मजदूर दिवस अमर रहे । जब मेहनतकश मेहनत करता है तब रूपया पैदा होता है । रूपया पैदा करता है, मगर वह हमेशा निर्धन, बिन रूपया, रहता है । ये कैसा खेल है जो समझ नहीं आता है । जो पैदा करता है रुपया, उस रूपया का मालिक कोई दूसरा होता है । […]

Read More