Articles, News | समाचार

9 अगस्त को किसानों का सम्पूर्ण कर्ज माफी व स्वामीनाथन आयोग की सिफारिश लागू कराने की मांग को लेकर ऐतिहासिक ‘जेल भरो आंदोलन’ होगा – पेमाराम

Admin

Admin

 

अखिल भारतीय किसान सभा की ओर से नौ अगस्त को प्रस्तावित जेल भरो आन्दोलन को सफल बनाने को लेकर किसान सभा पदाधिकारियों की ओर से रविवार को भी गांवों में किसानों से जनसंपर्क किया गया व आंदोलन में अधिकाधिक संख्या में भागीदारी निभाने का आह्वान किया गया ।

रविवार को किसान सभा के पदाधिकारियों ने धोद तहसील के गांव सबलपुरा, ढाका की ढाणी, आकवा, पूरा की ढाणी, भैरूपुरा, मैलासी, झीगर बड़ी, ओला की ढाणी, झीगर छोटी, गोठड़ा भूखरान, जेरठी, कूदन, अजीतपुरा, थोरासी, पलथाना, रसीदपुरा, भढाडर सहित आदि गांवों में पहुँचकर किसानों से मुलाकात की तथा उनकी समस्या सुनते हुए नौ अगस्त को जेल भरो आंदोलन का आह्वान किया ।

इस दौरान गाँवो की चौपाल में हुई सभा में किसान सभा के प्रदेशाध्यक्ष कॉमरेड पेमाराम ने कहा कि – नौ अगस्त को होगा जेल भरो आंदोलन, सरकार किसान विरोधी नीतियों को छोड़े या फिर गद्दी को छोड़े और सम्पूर्ण कर्जमाफी व फसलों की लागत का डेढ़ गुना भावों की लेकर किसान कृषि उपज मंडी सीकर में आमसभा करके जिला मुख्यालय पर प्रदर्शन करेंगे तथा गिरफ्तारियां देंगे । आंदोलन को सफल बनाने के लिये प्रत्येक किसान की भागीदारी जरूरी है। किसान हक की लड़ाई में जीत हासिल करने के लिए अधिकाधिक संख्या में कृषि उपज मंडी सीकर पहुँचे तथा सरकार को अपनी ताकत से अवगत करवाएं ।
उन्होंने कहा केंद्र व राज्य सरकार ने झूठी योजनाओं के नाम पर किसानों के साथ धोखा किया । जब किसानों का सम्पूर्ण कर्जमाफी नही की जायेगी, तब तक किसान सभा संघर्ष जारी रखेगी ।

किसानों ने कहा कि सम्पूर्ण कर्जमाफी व फसलों का लाभकारी मूल्य के लिए किसान जेल जाने को भी तैयार रहेंगे ।

इस मौके पर रुड़सिंह तहसील सचिव, भगवान सिंह बगड़िया, पन्ने सिंह , तहसील उपाध्यक्ष, राकेश कृष्णिया, सत्यजीत भींचर, पूर्णसिंह शेखावत पलथाना सहित अन्य पदाधिकारी उपस्थित थे ।

Tags:

Leave a Comment