Monthly Archive: January 2018

  त्रिपुरा में कई सालो से मुख्यमंत्री रहने के बाद, उनके बैक खाते में 2410 रुपये है, कोई धन दौलत नहीं है, पार्टी और समाज के लिए पति पत्नी दोनों ने अपना जीवन समर्पित कर दिया, धन दौलत के मोह से बाहर हो गए, यह वामपंथी विचारधारा का असल रूप है, यही असल वामपंथी नेता […]

Read More

  जिस देश में राजनीति में धर्म का मिश्रण हुआ तो वहाँ पर बर्बादी की तरफ़ जाना सुनिश्चित है, आज दुनिया का कोई भी देश ऐसा नहीं है जहॉ की धरती पर केवल एक ही धर्म हो, अन्य धर्मो को मानने वाले लोग भी है, भले ही उनकी संख्या कम है, मगर होगे जरूर । […]

Read More

  मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) ने केंद्र सरकार के एकल ब्रांड खुदरा व्यापार में स्वचालित मार्ग के जरिए 100 फीसदी प्रत्यक्ष विदेशी निवेश (एफडीआई) को अनुमति देने के फैसले की निंदा की है। #सीपीएम ने चेतावनी दी कि इससे घरेलू खुदरा व्यापारियों और दुकानदारों को हानिकारक परिणाम भुगतने पड़ सकते हैं। अबतक स्वचालित मार्ग के […]

Read More

  यह बात कभी आपने सोची, नहीं सोची होगी । हर कार्य में विचारधारा प्रदर्शित होती है, इंकलाब का नारा व्यवस्था परिवर्तन के लिए लगाया जाता है, वामपंथी विचारधारा के दल हमारे देश में इस पूँजीवादी शोषण, दमन, अत्याचारी व्यवस्था को बदलना, चाहते हैं, उसकी जगह पर, समाजवादी सामाजिक व्यवस्था लाना चाहते हैं, इसलिए वो […]

Read More

  आप सभी को नववर्ष 2018 की हार्दिक शुभकामनाएँ, ये वर्ष आपके लिए अच्छा हो, ऐसी अपेक्षा करते हैं, आज हमारे देश के हालात बहुत ही खराब स्तिथि में चल रहे है, नरेंद्र मोदी जी की पूँजीवादी सरकार, खुलकर एक तरफा चल दी है, देश की सम्प्रभुता खतरे में है, पूरे देश की अर्थव्यवस्था देशी […]

Read More