स्वप्रमाणिकरण योजना 2014, गुलामी का दस्तावेज़

इस दस्तावेज को पड़ने के बाद बिल्कुल साफ है कि भारतीय जनता पार्टी, खुले रूप से, एक तरफा पूँजीपतियो के पक्ष में दौड़ पड़ी है, उनकी विराट संपत्ति बढ़ाने में कोई भी हथकंडे करने के लिए पीछे नहीं है, उनकी समझ बिल्कुल साफ है कि पूँजीपतियो की अपार संपत्ति तभी बढ़ सकती है जब मजदूरों, कर्मचारीयो, के पेट काटे जाए और बहुत कम वेतन में ज्यादा काम कराया जाए, ऐसा करने से अत्याचार, शोषण बढ़ेगा, तो मेहनत कश वर्ग लड़ेगा, तो उसके पहले उसके कानूनी अधिकार खत्म कर दो, ताकि उस पर अत्याचार किया जा सके और वह कुछ न कर पाए । सिर्फ तड़पता रहे, रोता रहे, मगर कुछ कर न पाए, मजबूर होकर जुल्म सहने के लिए तैयार रहे ।
यही गुलामी है, जिसके लिए ये स्वप्रमाणिकरण योजना के नाम पर ये काला कानून भारतीय जनता पार्टी की म. प्र. की सरकार ने बनाया है ।
यह हथकंड़ी और बेड़ियां दोनों है । पूँजीपतियो को जुल्म करने की मनमानी छूट है ।
आप ही पड़ लिजिए, ये लिंक है, डाउनलोड करें, और पढ़े ।

http://govtpressmp.nic.in/pdf/extra/2014-10-07-474.pdf

इस विडियो में विस्तार जानकारी है, इसे भी सुने ।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published.