Articles, Workers | कर्मचारी

संयुक्त मंच के प्रतिनिधियों का मुख्यमंत्री से चर्चा सम्पन्न न्यूनतम वेतन देने, सेवा निवृत्ति आयु 62 वर्ष करने, एक मुश्त राशि देने की बनी सहमति

Admin

Admin

 

10 मार्च को संयुक्त मंच की ओर से मुख्यमंत्री से सम्पन्न चर्चा के बाद तय आधार पर आज दिनांक 29 मार्च 2018 को आंगनवाडी कार्यकर्ता सहायिका संयुक्त मंच के प्रतिनिधियों को मुख्यमंत्री से चर्चा हेतु आमंत्रित किया गया। आंगनवाडी कार्यकर्ता सहायिका एकता यूनियन मध्य प्रदेश (सीटू ) की प्रदेश अध्यक्ष विद्यो खंगार, महासचिव किशोरी वर्मा, कार्यवाहक अध्यक्ष कमलेश शर्मा, कोषाध्यक्ष हाजरा काजमी, मानसेवी संघ की पार्वती आर्य, कीर्ती बैरागी, लघुवेतन प्रकोष्ठ की राजकुमारी, सागर की गयायत्री पटेल सहित संयुक्त मंच के आठ सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल ने पहले संचालनालय एकत्रित होकर राजकीय हवाई अड्डे पर मुख्यमंत्री श्री शिवराजसिंह चौहान एवं महिला एवं बाल विकास मंत्री अर्चना चिटनीस की उपस्थिति में चर्चा की। चर्चा में कुछ अन्य संगठनों के प्रतिनिधियों को भी आमंत्रित किये गये थे।
चर्चा के दौरान प्रतिनिधिमंडल मुख्यमंत्री से न्यूनतम वेतन लागू करने की मांग को दोहराया गया, जिस पर मुख्यमंत्री ने सहमति व्यक्त करते हुये न्यूनतम वेतन देने की बात को स्वीकार किया। इसी के साथ सेवा निवृत्ति पर एक मुश्त राशि देने एवं आंगनवाडी कर्मियों की सेवा निवृत्ति आयु 62 वर्ष करने पर भी मुख्यमंत्री द्वारा सहमति व्यक्त किया गया। अन्य मांगों पर चर्चा कर निर्णय लेने हेतु विभागीय मंत्री महोदया एवं विभागीय अधिकारियों को अधिकृत किया गया। चर्चा के दौरान महिला एवं बाल विकास विभाग के संचालक एवं प्रमुख सचिव भी मौजूद रहे।
संयुक्त मंच के पदाधिकारियों ने इस निर्णय को आंगनवाडी कर्मियों की लम्बे समय से चल रहे एकजुट आंदोलन का परिणाम बताते हुए शासकीय कर्मचारी का दर्जा सहित विभिन्न मांगों के लिये संघर्ष जारी रखने का आह्वान किया है।
(किशोरी वर्मा)
आंगनवाडी कार्यकर्ता सहायिका
संयुक्त मंच, मध्य प्रदेश

Tags:

Leave a Comment