Articles, Political | राजनैतिक

नोटबंदी, काला धन को सफेद करने का दुनियां का सबसे बड़ा घोटाला

Admin

Ashish

विदेशों में जमा काला धन लाकर, 15 लाख रुपये हर भारतीय के खाते में मिलने, का वादा करके नरेंद्र मोदी जी चुनाव जीते, इस विदेशी धन पर तो कुछ नहीं कर पाये ।

ये सफेद धन था, लाखों करोड़ रुपये जो, पूँजीपतियो ने बैक से, कर्ज़ के रूप में लिए थे, वापिस नहीं दिए, उनका कुछ नहीं कर पाए, सरकारी खजाने से इसका पैसा जमा किया । ये देश की सबसे बड़ी लूट है ।

आम जनता, आम आदमी को सड़को पर खड़ा कर दिया, उनके पास छोटी सी बचत को जबरदस्ती बैक में जमा करवाया, अब फिर यही पैसा इन पूँजीपतियो को कर्ज़ के रूप में देना शुरू कर दिया, यह आम जनता का पैसा फिर लूटने के लिए बॉटा जा रहा है ।

नोटबंदी से दिन से लेकर, आज तक केवल आम जनता ही सड़को पर भटकी, न कोई पूंजीपति लाइनों में दिखे, न कोई राजनेता लाइनों में दिखे, यहाँ तक की उच्च मध्यम वर्गीय वर्ग के लोग कही लाइनों में नहीं दिखे । केवल आम जनता लाइनों में लगी, और कई लोगों की जान चली गई ।

जिनके पास नगद कैश था, उनको बदलने का मौका दिया गया, जिसमें सबसे ज्यादा करेंसी, पेट्रोल पंपो पर बदली गई, हमारे देश के पेट्रोल पंप उन सब लोगों के है, जिसमें नेता बड़ी संख्या में है, जिनके पेट्रोल पंप है, यहॉ पर काधा धन खूब सफेद हुआ ।

रिजर्व बैंक के ऑकड़े आने के बाद बिल्कुल साफ हो गया कि बड़ी संख्या में कालाधन सफेद हो गया है । क्योंकि 99 प्रतिशत नोट वापिस बैको में आ गए है ।

इससे रोजगार कम हुए, नौकरी से बड़ी संख्या में लोगों को निकाला गया, किसान, मजदूर, गरीब आम आदमी ही परेशान हुआ और लूटा भी गया ।
बैक मैं पैसा जमा करने के बाद बैको ने न्यूनतम ब्लैंस रखने के नाम पर कटौती शुरू कर दी, जिन गरीबों का बचत का, थोड़ा पैसा बैक में जमा है, वह कुछ दिन बाद पैनाल्टी में ही खत्म हो जाएगा, यह केवल आम जनता, गरीब की लूट है ।
किसी भी तरह से ये नोटबंदी गलत साबित हुई है, आमजनता बर्बाद हुई है । देश को भारी नुकसान हुआ और जी डी पी कम हो गई ।

इसका दूसरा पक्ष है कि इस स्कीम से जिन्होंने अपना कालाधन सफेद कर लिया, वो तो खुश हैं, मोदी जी को धन्यवाद दे रहे है, और बड़ी संख्या में अप्रत्यक्ष रूप से आर्थिक सहयोग, करते रहते है ।
यही लोग इस नोटबंदी को सही साबित करने में लगे है ।
इस पक्ष को भी आज आम आदमी को समझना पड़ेगा ।
इसलिए ये हमारे लिए काला दिन है ।

 

Leave a Comment