Articles, Workers | कर्मचारी

आंगनवाडी कर्मियों का मानदेय हुआ दुगुना-सीटू ने कहा संघर्ष की जीत

Admin

Admin

 

न्यूनतम वेतन व शासकीय कर्मचारी बनाने का संघर्ष जारी रहेगा

आज मुख्यमंत्री द्वारा आंगनवाडी कर्मियों के मानदेय में बढोत्तरी कर कार्यकर्ता को 10 हजार एवं सहायिका को 5 हजार रुपये मानदेय देने की घोघणा को सीटू ने आंगनवाडी कर्मियों के संघर्ष की जीत बताया। ज्ञातव्य है कि आंगनवाडी कार्यकर्ता सहायिका एकता यूनियन सीटू ने लम्बे समय से आंगनवाडी कर्मियों को न्यूनतम वेतन सलाहकार बोर्ड द्वारा निर्धारित न्यूनतम  वेतन और अन्य सुविधायें देने के लिये कडा संघर्ष किया है। हाल ही में 27-28 फरवरी को भोपाल में हुये महापडाव में 10 हजार से अधिक आंगनवाडी कर्मियों ने अपना रोष व्यक्त किया तो 10 मार्च को मुख्यमंत्री ने सीटू नेताओं से बातचीत कर एक माह का मोहलत मांगते हुये कार्यवाही करने का आश्वासन दिया था। सीटू के इस संघर्ष के दबाव में आज मुख्यमंत्री निवास पर पोषण आहार के बहाने बुलाई पंचायत में मुख्यमंत्री को कार्यकर्ता को कार्यकर्ता को 10 हजार और कार्यकर्ता को 5 हजार रुपये मानदेय में वृद्धि की घोषणा करनी पडी। साथ ही सेवा निवृत्ति आयु 62 वर्ष किये जाने के साथ साथ सेवा निवृत्ति पर कार्यकर्ता को एक लाख और सहायिका को 75000 रुपये देने, सामान्य मृत्यु में 2 लाख रुपये और दुघर्टना मृत्यु की दिशा में 5लाख रुपये देने का भी घोषणा भी हुयी। आज बुलाये गये पंचायत के दौरान भी जब कार्यकर्ताओं एवं सहायिकाओं के मुख्यमंत्री निवास पर प्रवेश में प्रशासन द्वारा बाधा उत्पन्न की गयी तो सीटू के नेतृत्व में आंगनवाडी कर्मियों ने वहीं जंगी प्रदर्शन शुरु कर दिया जिसके चलते सभी को प्रवेश देने की ताबडतोड घोषणा करनी पडी।

इस अवसर पर आंगनवाडी की अखिल भारतीय फेडरेशन की राष्ट्रीय अध्यक्ष उषा रानी ने प्रदेश की तमाम कार्यकर्ता एवं सहायिकाओं को बधाई देते हुये कहा कि लडाई अभी थमी नही है। न्यूनतम वेतन के साथ साथ शासकीय कर्मचारी का दर्जा हासिल करने का संघर्ष सीटू जारी रखेगी।

आंगनवाडी कार्यकर्ता सहायिका एकता यूनियन मध्य प्रदेश (सीटू )ने शासन के इस निर्णय को प्रदेश की आंगनवाडी कार्यकर्ता सहायिकाओं की संघर्ष की जीत बताया है। आंगनवाडी कार्यकर्ता सहायिका एकता यूनियन मध्य प्रदेश (सीटू ) की प्रदेश अध्यक्ष विद्यो खंगार, महासचिव किशोरी वर्मा, कार्यवाहक अध्यक्ष कमलेश शर्मा, कोषाध्यक्ष हाजरा काजमी आदि ने अपने लगातार चले संघर्ष और जीत के लिये प्रदेश की आंगनवाडी कार्यकर्ता सहायिकाओं को बंधाई देते हुये महंगाई भत्ता सहित न्यूनतम वेतन लागू कराने और शासकीय कर्मचारी का दर्जा पाने का संघर्ष जारी रखने का आह्वान किया

भवदीय

किशोरी वर्मा

महासचिव

मो. 7999276552

 

 

Tags:

Leave a Comment